Free SEO Tutorial in Hindi 2023 – हिंदी में सीखें आसान भाषा में

SEO Tutorial in Hindi – Hello दोस्तों, क्या आपको पता है कि SEO क्या है, SEO कैसे किया जाता है ? और SEO कितने Types के होते है ? और सारे SEO tutorial हिंदी में बताने वाले है।

ताकि जैसे मेरे ब्लॉग के बहुत सारे Particular Keyword पर Google जैसे Search Engine पर Top पर कैसे Rank करता है उसको जान कर आप भी अपने ब्लॉग को Google SERP पर Top पर रैंक करा पाए।

“CONTENT IS KING and PROMOTION IS QUEEN” – यह बात याद रखना दोस्त।

अब आपने एक Blog Create किया, तो उसमें आप अपनी content को कैसे लिखेंगे, Search Engine के लिए कैसे Optimized करेंगे, उसका कुछ नियम है जो आपको follow करना चाहिए।

Free SEO Tutorial in Hindi – SEO Kaise Karte hai?

Search Engine Optimization कहाँ से सीखें?

बहुत से लोग घबरा जाते हैं कि मुझे एसईओ आती ही नहीं, मैंने तो एसईओ सीखी ही नहीं, Keywords कैसे use करूंगा……

तो सीख लो ना…..

आप SEO बहुत सारे Blogs या Youtube Videos देख करके और Practically उसको Implement करके Easily सीख सकते हो।

आप Online Blogs में पढ़के भी ब्लॉग्गिंग सीख सकते हो। जो काफी आसान है। आजकल तो बहुत सारे Blogger, YouTube पर भी सीखाते है, तो आपको वहां से सीखना चाहिए।

SEO Kya Hai?

आप personally जानते हो 1000-2000 लोगों को, उनको तो आप अपना blog post share करके बताओगे, लेकिन करोड़ो लोग जो Google/Bing पे हर रोज आ रहे हैं, उन तक अगर पहुंच गए तो आपके blog के success ratio कितने बढ़ जाएगी, कितनी multiply कर जाएगी, इसी काम को करने की process को हम बोलते हैं – SEO (Search Engine Optimization).

मतलब किसी भी ब्लॉग में Blog Post या किसी भी वेबसाइट को Search Engine (Google, Bing, Yahoo) के लिए अच्छे तरीकेसे जो हम Optimization करते है ताकि हमारी ब्लॉग या वेबसाइट Search Engine Results Page पर 1st Page पर Rank कर सके, उसी Process को हम SEO (Search Engine Optimization) बोलते है।

Types of SEO (Search Engine Optimization के प्रकार)

वैसे Search Engine Optimization तीन Technique से किया जाता है –

  1. White hat SEO Technique
  2. Black hat SEO Technique
  3. Grey hat SEO Technique
  • जो White hat SEO होता है वो काम ऐसे करता है की सभी काम एकदम Legal तरीके से किया गया एसईओ Technique होता है। Whitehat SEO वो होता है की हम कुछ नहीं करे Ranking के लिए, हमने हमारी Site Google/Bing को दे दी, अब ये Google की जिम्मेदारी बनती है की जो Website है, वो उसको Rank करे।
  • जो Black hat SEO होता है वो बिलकुल ही illegal तरीकेसे किया गया एसईओ Technique होता है। Greyhat SEO होता है की हम ने खुद की तरफ से कुछ SEO techniques Use किये और उसको Google को दे दी और Google/Bing जैसे Search Engine को दे दी, अब वो आपकी Website को Ranking दे देगा।
  • जो Grey hat SEO होता है वो थोड़ा legal भी है और थोड़ा illegal तरीकेसे भी किया गया एसईओ Technique होता है। Blackhat SEO होता है कि हम Google को force कर रहे है, उसके Coding को force कर रहे है, उसके Algorithm को force कर रहे है, की बाकि सब website भार में जाये और मेरी Website Top पर Rank कराओ।

तो अब आपको मैं White hat SEO और Gray hat SEO Technique के बारे में में बताऊंगा –

अभी देखिए White hat SEO चार प्रकार के होते हैं –

  1. ON Page SEO
  2. Technical/ON-Site SEO
  3. OFF-Site SEO/Off Page SEO
  4. Local SEO

On Page SEO Kya Hai और कैसे करते है ?

किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट के ऊपर या अंदर हम जो एसईओ करते है उसको हम On-Page SEO बोलते है। मतलब हमे जो अपने Page के ऊपर एसईओ करते है वही है On-Page SEO.

On Page SEO हम अपने Page अंदर या ऊपर करते है, और वो इस तरीकेसे करते है –

  1. Blog की Title Attractive बनाना है, Main Keywords के साथ।
  2. कमसे काम 5 Alternative Tag का Use करना है।
  3. Keywords Research करके उसको Blog Post के अंदर implement करना।
  4. Image को अच्छी तरीकेसे Optimize (Resize, Alt text, Description, Caption का यूज़) करना है।
  5. Category – हर एक Post के लिए एक Category बनाना। (User एक्सपीरियंस अच्छा होता है)
  6. Permalink – Post से related URL या Permalink बनाना है।
  7. Location set करना, ताकि किसी Particular लोगो तक ही हमारे Post दिखाई दे।
  8. Meta Description बनाना अपने Post से related, मतलब आपके Post में जो कुछ भी है वो short में बताना।
  9. Use Heading – Post में Heading देना है। कमसे कम 3 Subheading(H2, H3) को Use करना है।
  10. Use Relevant Keyword: Keywords को अलग अलग जगह जैसे title, Permalink, search description, अलग अलग paragraph में, और images के caption में।
  11. LSI keywords को Post के अंदर Use करना।
  12. Interlinking – मतलब कुछ अपने पुराने post link को नए post के अंदर डालना और कुछ किसी और popular blogger के blog post के link(Outbound link) भी डालना होता है
  13. Add Author Box – अपने हर एक Post के अंदर Author Box add करना है, ताकि गूगल ये पता लगा सके की वो particular post किसने लिखा है।
  14. Article Length – सबसे जरुरी बात तो ये है की आपकी ब्लॉग पोस्ट में 2000 से 2500 के अंदर words होना चाहिए। और इसमें पूरा In-depth लिखना पड़ेगा आपको।

तो जब आप इन सभी को अच्छे से अपने Blog में Implement करोगे तो आपका On-Page SEO हो जायेगा।

Detail Post पढ़े – On-Page SEO क्या है और कैसे करते है ? (Expert Guide)

Technical SEO Kya Hai और कैसे करते है ?

हमे technically जो कुछ strategy अपने Blog या Website के लिए फॉलो करना पड़ता है उसी strategy को हम Technical एसईओ बोलते है।

Technical SEO इतना आसान भी नहीं क्यूंकि इसमें अपने ब्लॉग या वेबसाइट में Coding से related काम करना पड़ता है। जैसे –

  1. Error Check: Html में error को check करके ठीक करना है।
  2. Make Link List: Blog के Link List बनाना है।
  3. JavaScript, HTML और CSS file को Minify करना है।
  4. Speed: Blog या Website Speed को check करके उसको Improve करना है। (ये बहुत जरुरी पॉइंट है)
  5. Link Add: Social Media Profile Link को Add करना है।
  6. SEO Plugin, Security Plugin, Backup Plugin, Cache Plugin को Use करना है।
  7. Security को Improve करना। SSL Certificate को Use करना है।
  8. AMP को सेटअप करना है।
  9. Ads को Optimize करना है।
  10. User Experience को बेहतर बनाना है। अलग अलग Widget को Use करना है।

ये सारे काम Technical एसईओ के अंदर आते है।

Detail Post पढ़ें Technical SEO क्या है और कैसे करते है ? (Detailed Explanation)

Off Page SEO Kya Hai और कैसे करते है ?

हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट के बाहर जो कुछ Optimization Strategy Use करते है उसी strategy को Off-Page या Off-Site एसईओ बोलते है।

Off-Page SEO को हम अपने वेबसाइट या ब्लॉग के बाहर में जाकर करते है, तो उसको कैसे करते है मैं आपको बताता हूँ –

  1. Share Blog Post on Social Media: जब आप अपने ब्लॉग पोस्ट को publish करते तो सबसे पहले तो उसको Social Media platform पर Share करना होता है।
  2. Add URL on Search Console: उसके बाद हर एक Search Console पर जाके URL को Inspection के लिए डालना पड़ता है।
  3. Do-follow Backlink: अपने ब्लॉग category से related और blog में Backlink बनाना होता है।
  4. Answer Q&A Sites: Question & Answer Site पर लोगो के question का जवाब देना होता है। Quora जैसी site पर Answer देना होता है और उसमें अपने ब्लॉग के link भी डालना होता है।
  5. Ping URL: URL को Ping List पर Ping करना होता है। (वैसे वर्डप्रेस में ये चीज ऑटोमेटिकली हो जाता है)
  6. URL Bookmarking: URL को Bookmarking Site पर Bookmark करना होता है।
  7. Share Image: Images को image sharing site पर share करना होता है।
  8. Create Page: अलग अलग Social Media पर Page Create करना होता है और Group Create करना होता है।
  9. Directory Submission: Blog Directory Submit करना पड़ता है। (ये नई ब्लॉगर के लिए है)
  10. Blog Commenting: Other Blog में Commenting के through Backlink बनाना होता है। (आज कल इतना काम नहीं करता है, फिर भी आप किसी के ब्लॉग को पढ़कर उनको ganuine कमेंट कर सकते हैं)
  11. Guest Posting: अपने ब्लॉग Niche या Category से related किसी Popular Blog पर free में Guest Post करना है, एक backlink के बदले।
  12. Pin on Pinterest: Pinterest पर अपने ब्लॉग से related कुछ इन्फोग्राफिक Share करके pin करना है और उसमें आपके blog post URL add होने चाहिए।

तो अगर आप इन सभी चीज को हर दिन फॉलो करोगे तो धीरे धीरे आपका Off-Page एसईओ improve होता चला आएगा। और पढ़े Off-Page SEO के बारे में।

Detail पोस्ट पढ़ें – Off-Page SEO क्या है और कैसे करते है ? (Expert Guide)

Local SEO Kya Hai और कैसे करते है ?

Local SEO वो होता है की जो Strategy हम follow करते है वो सिर्फ और Local Market को Target करते हुए ही करते है। मतलब Local market को target करते हुए ही हम एसईओ strategy use करते है और उसी Strategy को Local SEO बोलते है।

Local SEO करने के लिए हमे पूरा local market को analyze करना पड़ता है, ताकि हमे पता लग सके की हमारे local market में कौनसे लोग क्या क्या देखना पसंद करते है और क्या क्या चाहिए होता है। local एसईओ ऐसे करते है –

  1. Target Paid Advertising on Local Market: Local Market में Social Media में Paid Advertising करना पड़ता है। basically Facebook पर किसी Particular Area को target करते हुए Paid Advertising करना है।
  2. Google Ad के through Local Market को target करते हुए मतलब किसी particular एक Area को choose करते हुए Paid Advertising करना होता है।
  3. Use Regional Language: सबसे जरुरी बात ये है Keywords को Regional Language में use करना और blog post को Regional Language में लिखना है।
  4. Local SEO करने के लिए आपको अपने Local Area के Topic को अपने ब्लॉग या वेबसाइट के ऊपर cover करना है।

तो ये सभी strategy को हम जब फॉलो करेंगे तो आप सारे एसईओ Strategy को Improve कर सकते हो।

तो जो हम SEO करते है Search Engine Optimization, वो हर Search Engine के लिए मतलब Google/Bing/Yahoo, इन सबके लिए हमे अलग अलग तरीकेसे एसईओ करना पड़ता है।

अब ये हमारे ऊपर कि कौनसे Website, कौनसे Keyword पर, कौनसे Search Engine पर, किस जगह Rank करवाना है।

Ranking इतना आसान नहीं है की कुछ 2-4 tips follow करि और आपकी Website Google/Bing/Yahoo जैसी Search Engine पर Top पर Rank कर जाएगी।

इसमें बहुत Competition होता है, क्यूंकि पूरी Online Internet Market जो है, वो Google पे Depend करता है।

मान लीजिये Big Boss के जो show है, जब Big Boss चल रहे होते है, उस time अगर आपने उस Big Boss वाली Keyword पर आपने कोई Site Google पर एकदम Top 1 पर rank करा लेते है ना, तो सारे Search Results के सारा Traffic आपकी Website पर आएंगे और अपने Site पे अगर आप Google Adsense के Ad लगाए हुए है, तो घर बैठे ही आप लाखो रूपए कमा सकते हो सिर्फ एक Site से।

लेकिन इतना आसान भी नहीं होता की आपकी कोई Trending Keyword Google के Top 1 Results में आ जाये, वो सब बहुत सारे Factors पे depend करता है।

आप इस Blog को पढ़ कर सीख सकते हो या फिर कुछ बढ़िया Blogger जो SEO सीखाते है उनके Youtube channel देख लो, उनके Blog/Website पढ़ो। सिर्फ एक दो Blog/Website ही मत पढ़ो, internet में जितनी ऐसी Website/Blog है, जो SEO के ऊपर Blog Post लिखता है, वो सारे Article/Blog Post को हर दिन अच्छे से पढ़ के ब्लॉग्गिंग में आप आगे बढ़ सकते हो।

Recommended Blog – Backlinko.com, Neilpatel.com

सबसे Important Search Engine Optimization

क्या आपमें Patience है और क्या आप Consistently काम करते हैं ?

Patience ही एक ऐसा चीज है जो आप Blogging में एक Successful Blogger बन सकते हो।

ऐसा नहीं कि 5 posts डालें, 10 posts डालें, 50 या 100 Post डाले, results नहीं आए। डालते रहना होगा, consistently, regularly articles को publish करते रहना होगा, Blogging को enjoy करना होगा, उस सफर में सीखना होगा daily कुछ ना कुछ।

और हर एक Post Unique होना चाहिए, किसी से Copy किया हुआ पोस्ट नहीं होना चाहिए।

यह भूलना मत कि पानी भी चट्टान से एक ही बार तकराके अपना रास्ता नहीं बना लेता, वह पानी लगातार patience रखकर, consistently चट्टान से टकराता रहता है, और इतनी बड़ी चट्टान, इतनी solid को भी, इतनी नरम चीज पानी से भी हार मान लेती है और रास्ता बन जाता है।

अगर आपने Blogging में अपनी एक position बना ली, एक traffic base बना लिए, एक viewer base बना लिया, उसके बाद आप सो रहे होंगे, आपका Blog चल रहा होगा, आप दिन में कितने भी घंटे काम कर रहे हो, आपके Blog तो 24х7 आपके लिए काम कर रहा होगा।

लेकिन एक बात है जो आप को जीवन में और आगे लेकर जाएगा वह है LEARNING. मतलब कुछ भी सीखो, सीखना बंद मत करो। यह बातें याद है के काम करते जाना Success आपके कदम चूमेगी।

FAQ’s

SEO Full Form in Hindi

SEO – Search Engine Optimization (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन)

SEO क्या है?

SEO का मतलब है हम Search Engine यानी Mainly Google के लिए अपने Blog या Website में ऑप्टिमाइजेशन करते है ताकि हमारा ब्लॉग पोस्ट या वेबसाइट Google SERP में Top पर रैंक करें।

SEO कितने Types के होते है ?

Basically SEO 4 Types के होते है – On-Page SEO, Off-Page SEO, Technical SEO, और Local SEO.

SEO कैसे करे?

On-Page, Off-Page, Technical, और Local लेवल आपको अपने ब्लॉग के लिए SEO करना पड़ेगा। जैसे Title, Headings, Keyword Implement, URL Structure, Backlink, Interlinking, Outbound Linking, Tag, Categories, SEO Plugin Setup, Blog Structure, Image Optimization, Speed Optimization, etc. करना होता है एक ब्लॉग में और इसी चीज को हम SEO बोलते है।

SEO कैसे सीखें?

SEO सीखने के लिए Blogs पढ़ सकते है, YouTube पर प्रोफेशनल Bloggers की Video देख सकते है या आप किसी से SEO का Paid Consultency भी ले सकते है। Our WhatsApp No. – 9101025898(for Paid Consultency)

Conclusion

तो दोस्त आपको आज का हमारा यह Free SEO Tutorial in Hindi कैसा लगा ?

अगर आपके मन में कोई भी सवाल या सुझाव है तो मुझे नीचे कमेंट करके जरूर बताये।

SEO कोई magic नहीं है कि अपने आज कर दिया तो कल से आपके पोस्ट में लाखो ट्रैफिक आने लगेंगे, और ये कोई Rocket Science भी नहीं है, तो कोशिश कीजिये सही स्ट्रेटेजी सीखने की।

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से धन्यवाद,

Wish You All The Very Best.

संबधित लेख –

Leave a Comment